Akshay Kasture

24 July 1999 INDIA

मेरे आंसू

मेरे आंसू आज खुदखुशी करना चाहते थे
पर मैंने उन्हें रोक दिया
अपने पलको में बंद कर दिया था

जीरो से खटखटा रहे थे
न जाने कितनोंको जमा कर लिया
और मेरे खिलाफ जंग शुरू कर दी

मै बेचारा उन्हें संभाल नहीं पाया
वे तो फिसल गए
और खामोश सिर्फ देखता रहा
53 Total read